वह सुहागरात की रात

Spread the love

[ A+ ] /[ A- ]

Font Size » Large | Small


वह सुहागरात की रात

Antarvasna, hindi sex kahani:

Wah suhagraat ki raat कुछ दिनों से मैं अपने ऑफिस नहीं जा पा रहा था क्योंकि मेरी तबीयत ठीक नहीं थी मुझे काफी तेज बुखार था इसलिए मैंने ऑफिस से एक हफ्ते की छुट्टी ले ली थी। एक हफ्ते के बाद मैं जब ऑफिस गया तो मेरे दोस्तों ने मेरा हाल चाल पूछा और बॉस ने भी मेरा हाल चाल पूछा तो मैंने उन्हें कहा की मैं अब पहले से बेहतर हूं। मैं अपने आप को पहले से बेहतर महसूस कर रहा था मैं अब पूरी तरीके से ठीक हो चुका था। एक दिन मैं ऑफिस से घर लौट रहा था तो उस दिन मेरे दोस्त का मुझे फोन आया जब उसका मुझे फोन आया तो उसने मुझे कहा कि हम लोग एक गेट टुगेदर पार्टी अरेंज करवा रहे हैं जिसमें कि तुम्हें भी आना होगा। मैंने उसे कहा कि हां मैं जरूर आऊंगा और मैं जब अपनी गेट टुगेदर पार्टी में गया तो वहां पर मुझे काफी ज्यादा अच्छा लगा मैं अपने पुराने दोस्तों से मिलकर बहुत ही खुश था लेकिन मैंने कभी सोचा नहीं था कि मैं पायल से मुलाकात करूंगा। पायल से मिलना मेरे लिए बड़ी खुशी की बात थी मैंने कभी सोचा भी नहीं था की पायल से मेरी मुलाकात होगी।

पायल ने उस दिन तो मुझसे बात भी की और जैसे कि हम दोनों के बीच के सारे गिले-शिकवे दूर हो गए थे। पायल कॉलेज के समय में मेरी गर्लफ्रेंड थी लेकिन हम दोनों ने उसके बाद अलग होने का फैसला कर लिया था वह मुझसे दूर चली गई थी। मेरे लिए यह बड़ी खुशी की बात थी कि मैं उस पार्टी में पायल को मिल पाया और दोबारा से शायद हम दोनों अपने रिलेशन को शुरू करने के बारे में सोचने लगे थे। उस दिन तो हम लोगों ने पार्टी खत्म होने के बाद एक दूसरे का नंबर ले लिया था और उसके बाद हम दोनों एक दूसरे से बात भी करने लगे थे। हमारे बीच में जो भी गिले शिकवे थे वह सब दूर होते चले गए फिर मैं और पायल फिर से एक दूसरे के नजदीक आ चुके थे लेकिन मुझे यह मालूम नहीं था कि मैं और पायल एक दूसरे को अपने दिल की बात कह नहीं पाएंगे। हम दोनों एक दूसरे को अपने दिल की बात नहीं कह पा रहे थे लेकिन फिर जब मैंने अपने दिल की बात पायल को कहीं तो उसने भी तुरंत मेरे साथ दोबारा से रिलेशन शुरू करने के लिए हां कह दी और हम दोनों दोबारा से अपने रिलेशन को शुरू कर चुके थे।

loading...

मैं इस बात से काफी खुश था कि हम दोनों अपने रिलेशन को  दोबारा से शुरू कर चुके हैं हम दोनों को बड़ा ही अच्छा लगा जब हम दोनों ने एक दूसरे के साथ दोबारा से रिलेशन को शुरू किया। जब भी हम दोनों साथ में होते तो हम दोनों को बहुत ही अच्छा लगता हम दोनों का रिलेशन अच्छे से चलने लगा था और पुरानी बातें भूल कर हम दोनों काफी आगे बढ़ चुके थे। अब पायल भी जॉब करने लगी थी और मैं भी जॉब करता हूं इसलिए हम दोनों की सोच में भी अब काफी बदलाव आ चुका था और हमारे बीच काफी ज्यादा प्यार भी पनपने लगा था। मैं चाहता था कि जल्द से जल्द मैं पायल से शादी कर लूं क्योंकि मैं उसे खोना नहीं चाहता था इसलिए मैंने पायल से जब यह बात कही तो पायल ने भी मेरी बात मान ली और कहने लगी कि हां हम लोगों को शादी कर लेनी चाहिए। मैंने जब यह बात अपने पुराने दोस्तों को बताई तो सब लोग इस बात पर चौक गए और कहने लगे कि तुम लोगों का रिलेशन तो खत्म हो चुका था लेकिन अब तुम दोनों ने दोबारा से रिलेशन शुरू कर लिया है और तुम दोनों शादी भी करना चाहते हो। सब लोग इस बात से बड़े खुश भी थे क्योंकि मेरा और पायल का रिलेशन काफी समय तक चला था।

अब मैंने भी अपनी फैमिली में इस बारे में बात कर ली और पायल की फैमिली ने भी हम दोनों के रिश्ते को स्वीकार कर लिया था। हम दोनों ने जल्द ही इंगेजमेंट कर ली, हम दोनों की इंगेजमेंट हो जाने के बाद हम दोनों अब जल्द से जल्द शादी करना चाहते थे लेकिन पायल को कुछ समय के लिए अपने ऑफिस के काम के सिलसिले में मुंबई जाना था इस वजह से हम दोनों की शादी को थोड़ा समय और देना पड़ा। मैं चाहता था कि मैं और पायल एक दूसरे के साथ में बड़े खुश रहे और हम दोनों एक दूसरे के साथ में हमेशा ही खुश थे। मैंने पायल को अब हर वह खुशी देने का फैसला कर लिया था जो कि मैं उसे पहले नहीं दे पाया था क्योंकि पहले हम दोनों के झगड़े हो जाने के बाद हम दोनों अलग हो गए थे। पायल भी मुंबई से लौटने वाली थी और हम दोनों की शादी की तैयारियां भी चल रही थी मैं बड़ा ही खुश था कि हम दोनों की शादी हो जाएगी। जब हम दोनों की शादी नजदीक आ गई तो पायल और मैंने अपनी शादी की शॉपिंग भी साथ मे की उसके बाद हम दोनों की शादी बड़े ही धूमधाम से हुई। हम दोनों की शादी हो जाने के बाद हम दोनों पति-पत्नी बन चुके थे मैं पायल को अपनी पत्नी के रूप में पाकर बहुत ही ज्यादा खुश था। इतने लंबे समय के बाद हम दोनों का रिलेशन जो दोबारा शुरू हुआ था और उसके बाद हम दोनों ने शादी कर ली मेरे लिए यह बहुत ही खुशी की बात थी और पायल भी इस बात से बड़ी खुश थी।

पायल मेरी पत्नी बन चुकी थी। जब पहली रात हम दोनों एक ही बिस्तर पर थे तो पायल ने शर्मा नहीं रही थी क्योंकि इससे पहले भी कॉलेज के टाइम पर हम दोनों के बीच में सेक्स संबध बन चुके थे। मैंने पायल के साथ शारीरिक संबंध बनाए मैंने कॉलेज मे पायल की सील तोड़ी थी जिसके बाद कुछ समय तक पायल और मेरे बीच बात नहीं हुई थी। हम दोनो एक दूसरे के साथ मजा लेना चाहते थे मैंने पायल को अपनी बाहों में ले लिया था। कुछ देर तक पायल मेरी बाहों में थी फिर मैंने उसे किस करना शुरु किया मै जब उसके होंठों को चूमने लगा तो मुझे अच्छा लग रहा था और पायल को भी बड़ा मजा आ रहा था जिस तरीके से मै उसके होठों को चूम रहा था। हम दोनों की गर्मी बढ़ती ही जा रही थीमैंने पायल के होठों को काफी देर तक चूमा जिसके बाद वह बहुत ही ज्यादा अधिक गर्म हो गई थी। पायल और मैं एक दूसरे का साथ अच्छे से दे रहे थे। मैंने पायल से कहा मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है मैंने पायल के होंठो को काफी देर तक चूमने के बाद जब उसके कपडो को उतारना शुरू किया तो मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लगने लगा था। पायल कोभी काफी ज्यादा अच्छा लगने लगा था जिस तरीके से वह मेरा साथ दे रही थी उससे मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा था।

loading...

मैं और पायल एक दूसरे के साथ खुश थे। मैंने अपने लंड को पायल के सामने किया तो पायल ने मेरे लंड को अपने मुंह में ले लिया और मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है। वह मेरे लंड को बहुत देर तक अपने मुंह में लेकर उसे चूसती रही। जब वह अपने मुंह में मेरे लंड को ले रही थी तो मेरे लंड से पानी बाहर की तरफ को निकलने लगा था। मैंने पायल से कहा मेरे लंड से पानी बाहर की तरफ को निकलने लगा है मुझे बहुत अच्छा लग रहा था। हम दोनों बहुत ही ज्यादा खुश थे अब हम दोनों की गर्मी बहुत ज्यादा बढने लगी थी। मेरी गर्मी बढ़ती ही जा रही थी वह बहुत ही ज्यादा खुश थी जिस तरीके से हम दोनो एक दूसरे की गर्मी को बढ़ाए जा रहे थे।

मैंने और पायल ने एक दूसरे को इतना ज्यादा गर्म कर दिया था मैंने पायल के कपड़े उतार कर उसके स्तनों के बीच में अपने लंड को रगड़ना शुरू किया उसे मज़ा आने लगा। पायल की दो पहांड जैसे स्तनों के बीच में मेरा लंड था और मैं अपने लंड को पायल के स्तनों के ऊपर नीचे कर रहा था। जब मैंने पायल के स्तनों को अपने मुंह के अंदर लिया तो उसे मज़ा आने लगा वह बहुत ज्यादा गर्म होने लगी थी। मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था उसको भी बहुत ही ज्यादा मज़ा आने लगा था और मुझे भी बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा था। पायल अपने आपको बिल्कुल भी नहीं हो पा रही थी उसने मुझे कहा मैं अपने आपको बिल्कुल भी रोक नहीं पा रही हूं।

पायल की चूत से पानी बाहर की तरफ को निकल रहा था और मैंने उसकी चूत को कुछ देर तक चाटा जिससे कि उसे मज़ा आने लगा और वह मेरे बालों को अपने हाथों से खींचने लगी थी। मैंने काफी देर तक उसकी योनि का मजा लिया फिर अपने लंड को उसकी योनि में घुसा कर अंदर की तरफ से डाल दिया। मेरा लंड उसकी योनि के अंदर जा चुका था उसकी चूत के अंदर से पानी निकल रहा था। जब उसकी योनि से पानी बाहर निकलता तो मुझे बड़ा ही अच्छा लग रहा था हम दोनों पूरी तरीके से गर्म होते जा रहे थे हमारी गर्मी बहुत ज्यादा बढ़ चुकी थी। मैंने पायल की चूत के अंदर बाहर अपने लंड को काफी देर तक किया जब मैं पायल की चूत के अंदर बाहर अपने लंड को करता तो वह मुझे कहती मुझे और भी तेजी से चोदता जाओ।

मैं उसे तेजी से चोदता जा रहा था। हम दोनों बहुत ही ज्यादा गरम हो चुके थे एक समय ऐसा आया जब मेरा वीर्य बाहर की तरफ को निकलने को था मैंने पायल से कहा तुम अपनी चूतड़ों को मेरी तरफ कर लो। पायल ने अपनी चूतड़ों को मेरी तरफ किया मैंने उसकी योनि में अपने लंड को घुसा दिया मेरा लंड उसकी योनि में जा चुका था। मेरा लंड पायल की योनि के अंदर बाहर हो रहा था मैं बड़ी तेजी से उसे धक्के मार रहा था और वह मेरा साथ अच्छे से दे रही थी। जब मैं उसे धक्के मारता तो मुझे मजा आता और पायल को भी बड़ा मजा आ रहा था जिस तरीके से वह मेरा साथ दे रही थी। हम दोनों ने एक दूसरे का साथ काफी अच्छे से हमने एक दूसरे का साथ दिया। हमने सुहागरात को यादगार बना कर रख दिया था।


Comments are closed.


Spread the love

One thought on “वह सुहागरात की रात”

Comments are closed.