मोनिका को मोटा लंड पसंद आया

Spread the love

[ A+ ] /[ A- ]

Font Size » Large | Small


Antarvasna, kamukta:

Monika ko mota lund pasand aaya मैं पुणे का रहने वाला हूं और पुणे से ही मैंने अपने कॉलेज की पढ़ाई पूरी की है उसके बाद मैं मुंबई आ गया था और मुंबई में ही मैं नौकरी करने लगा। पापा भी रिटायर होने वाले थे जब पापा रिटायर हुए तो उसके बाद हम लोगों ने मुंबई में ही रहने का फैसला किया और अब मेरी फैमिली मुंबई में ही शिफ्ट हो चुकी थी। हम सब लोग साथ में रहते हैं और हम लोगों ने मुंबई में एक फ्लैट खरीद लिया था। मुझे इस बात की बड़ी खुशी है कि पापा और मम्मी मेरे साथ रहते हैं। एक दिन सुबह मैं अपने ऑफिस के लिए घर से निकला उस दिन मैं अपने ऑफिस के लिए निकला तो मुझे ऑफिस पहुंचने में काफी देर हो गई थी लेकिन मैंने मैनेज कर लिया था। मैं अपनी कॉलोनी में अक्सर एक लड़की को देखा करता हूं जब भी मैं उसे देखता तो मुझे उसे देखकर अच्छा लगता लेकिन उससे मैं कभी बात नहीं कर पाया था।

एक दिन मेरा दोस्त मेरे साथ था वह उसी कॉलोनी में रहता है जिस कॉलोनी में मैं रहता हूं और हम दोनों आपस में बात कर रहे थे कि तभी वह लड़की मुझे दिखी। जब वह लड़की मुझे दिखी तो मैंने अपने दोस्त रजत से कहा कि क्या तुम इस लड़की को जानते हो तो रजत कहने लगा कि उसका नाम मोनिका है मैं उसे जानता हूं। मैंने रजत को कहा कि क्या तुम उससे मेरी बात करवा सकते हो रजत मुझे कहने लगा कि लेकिन मुझे लगता नहीं है कि उससे तुम्हारी बात हो पाएगी। मैंने उस दिन रजत को कहा कि मैं मोनिका को पसंद करता हूं और मैं उससे बात करना चाहता हूं। रजत ने उस दिन मुझे मोनिका के बारे में बताया और वह कहने लगा कि कुछ समय पहले ही मोनिका की सगाई टूट गई थी जिस वजह से मुझे नहीं लगता कि वह तुमसे बात करेगी क्योंकि उसका परिवार अभी सदमे से उबर भी नहीं पाया है।

loading...

मैंने रजत को कहा कि लेकिन फिर भी मैं मोनिका से बात करना चाहता हूं और अगर तुम चाहो तो तुम उससे मेरी बात करवा सकते हो। रजत मुझे कहने लगा कि ठीक है मैं तुम्हारी मोनिका से बात करवाता हूं। कुछ समय बाद रजत ने मेरी मुलाकात मोनिका से करवाई मैंने मोनिका से बात की तो मुझे बहुत ही अच्छा लगा। मैं जो चाहता था वह पूरा होता जा रहा था क्योंकि मेरी बात मोनिका से होने लगी थी और हम दोनों एक दूसरे को पहचानने लगे थे। मोनिका से मैं फोन पर भी बातें करने लगा था और मुझे उससे फोन पर बातें करना अच्छा लगने लगा। मैं जब भी मोनिका से फोन पर बातें किया करता तो मुझे बहुत ही अच्छा लगता और मोनिका को भी बड़ा अच्छा लगता जब भी हम दोनों एक दूसरे से बातें किया करते। एक दिन मोनिका और मैं साथ में बैठे हुए थे उस दिन हम लोग अपनी कॉलोनी के पार्क में ही बैठे हुए थे और मैं मोनिका से बातें कर रहा था मुझे उससे बात करना अच्छा लग रहा था।

मैंने मोनिका से उस दिन कहा कि मैं तुमसे प्यार करता हूं। मोनिका मेरी तरफ देख कर कहने लगी की लेकिन मैंने कभी तुम्हारे बारे में ऐसा नहीं सोचा है। मैंने मोनिका से कहा कि मोनिका मैं वाकई में तुमसे प्यार करता हूं और मैं चाहता हूं कि मैं अपना जीवन तुम्हारे साथ बिताऊं। मोनिका मुझे कहने लगी कि मैंने तुम्हें अपनी सगाई के बारे में तो बता ही दिया था और मुझे नहीं लगता कि पापा और मम्मी फिलहाल इसके लिए तैयार होने वाले हैं। मोनिका मेरी बात मान चुकी थी और हम दोनों अब एक दूसरे को प्यार करने लगे थे लेकिन मोनिका के परिवार वाले शायद हम दोनों के रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे परंतु उसके बावजूद भी मोनिका और मैं एक दूसरे के साथ समय बिताया करते। जब भी हम दोनों एक दूसरे के साथ होते तो हम दोनों को ही अच्छा लगता। मैं मोनिका से बहुत ज्यादा प्यार करता हूं और मोनिका भी मुझसे बहुत प्यार करती है।

मेरे लिए यह बहुत ही अच्छा है कि मोनिका और मैं एक दूसरे को अच्छे तरीके से समझते हैं और एक दूसरे को हम लोग प्यार करते हैं। मैं एक दिन अपने ऑफिस से घर लौट रहा था उस दिन मैंने मोनिका को फोन किया। जब मैंने मोनिका को फोन किया तो मोनिका मुझसे कहने लगी कि मैं तुम्हें घर के बाहर ही मिलती हूं और हम लोग अपने घर के बाहर मिले। कुछ देर तक हम लोगों ने बात की फिर मोनिका चली गई थी उस रात हम लोगों की सिर्फ फोन पर ही बात हुई और मुझे मोनिका से बातें करना अच्छा लगा। जब मैं और मोनिका एक दूसरे से बातें कर रहे थे तो हम दोनों को काफी अच्छा लग रहा था लेकिन तभी मम्मी भी रूम में आ गई और मैंने फोन रख दिया था उसके बाद मैंने मोनिका को फोन किया तो मोनिका ने मेरा फोन नहीं उठाया। अगले दिन भी मैं मोनिका को को मिलने वाला था और अगले दिन जब मेरी मुलाकात मोनिका से हुई तो मुझे बहुत अच्छा लगा और हम दोनों एक दूसरे के साथ बहुत ही ज्यादा खुश है।

loading...

जिस तरीके से मैं और मोनिका एक दूसरे के साथ होते है उससे हम दोनों को बहुत ही अच्छा लगता है और हम दोनों एक दूसरे से बहुत ज्यादा प्यार करते हैं। मुझे इस बात की बड़ी खुशी है कि मोनिका मेरे साथ रिलेशन में है और जब भी मोनिका और मैं एक दूसरे के साथ समय बिताते हैं तो हम दोनों को बहुत ही अच्छा लगता है। हम दोनों का रिलेशन समय के साथ साथ और भी गहरा होता जा रहा था हम लोगों का प्यार बढ़ता ही जा रहा था। मेरे लिए यह बहुत ही अच्छा है जिस तरीके से मेरा रिलेशन मोनिका के साथ चल रहा है। मेरे और मोनिका के बीच प्यार तो बढ़ता ही जा रहा था और मुझे इस बात की बड़ी खुशी थी की मोनिका और मैं एक दूसरे के साथ रिलेशन में है। एक दिन घर पर कोई भी नहीं था उस दिन मैंने मोनिका को अपने साथ घर पर आने के लिए कहा लेकिन पहले तो मोनिका मना कर रही थी परंतु फिर वह मेरी बात मान गई। वह मेरे साथ घर पर आई तो हम दोनों एक दूसरे के साथ बैठे हुए बातें कर रहे थे।

मैं मोनिका की तरफ देख रहा था उस दिन से पहले ना तो मैंने कभी मोनिका से सेक्स को लेकर बातें की थी और ना ही कभी हम लोगों की इस तरीके की कुछ बात हुई थी लेकिन उस दिन मुझे लगा जैसे कि मोनिका मेरे साथ सेक्स करना चाहती हैं। मैंने उसके हाथों को पकड़कर उसकी गर्मी को बढ़ाना शुरू कर दिया था। मोनिका बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी और मैं भी बहुत ज्यादा गर्म हो चुका था। अब मैंने मोनिका के नरम होंठों को चूमना शुरू किया उसके गुलाबी होठों को चूमना मेरे लिए बहुत ही अच्छा था। मुझे ऐसा लग रहा था जैसे कि मेरा सपना हकीकत में तब्दील हो रहा था मैं मोनिका के होंठों को चूस कर उसकी गर्मी को पूरी तरीके से बढा चुका था। जब मैंने अपने लंड को मोनिका के सामने किया तो मोनिका मुझे कहने लगी तुम्हारा लंड बहुत मोटा है। उसने मेरे मोटे लंड को अपने हाथों में ले लिया तो मोनिका मेरे मोटे लंड को हिला रही थी। वह मेरे मोटे लंड को हिलाकर मेरी गर्मी को बढ़ा रही थी मुझे मजा आता जा रहा था और मोनिका को भी बहुत ज्यादा मजा आ रहा था।

वह मेरी गर्मी को बढ़ा रही थी उसने मेरी गर्मी को बहुत ज्यादा बढ़ा दिया था। जब मैंने मोनिका से कहा मैं भी तुम्हारी स्तनों का रसपान करना चाहता हूं? मोनिका ने अपने कपड़े उतार दिए। मोनिका और मैं एक दूसरे की गर्मी को बढ़ाए जा रहे थे अब हम दोनों से बिल्कुल भी नहीं रहा जा रहा था। मैंने मोनिका से कहा मुझसे बिल्कुल भी नहीं रहा जा रहा है। हम दोनों बहुत ज्यादा गरम हो चुके थे मैंने मोनिका के स्तनों को बहुत देर तक चूसा और उसके स्तनों को चूसने में मुझे मजा आ रहा था। अब मैंने उसके दोनों पैरों को खोलकर उसकी चूत पर अपनी उंगली को लगाया तो वह मचलने लगी और मैं भी बहुत ज्यादा मचलने लगा था। मैंने मोनिका से कहा मुझे बड़ा अच्छा लग रहा है। वह बहुत ज्यादा खुश थी और मैं भी बहुत ज्यादा खुश हो चुका था हम दोनों की गर्मी बढ़ती ही जा रही थी। मैंने मोनिका कि चूत पर जब अपने लंड को टच किया तो मोनिका मुझे कहने लगी क्या यह सही है। मैंने मोनिका को कहा मुझे तो तुम्हारी चूत के मजे लेने हैं तुम्हें डरने की जरूरत नहीं है यह कहते ही मैंने मोनिका की चूत में लंड को प्रवेश करवा दिया था।

मोनिका की योनि में मेरा लंड चला गया था उसकी चिकनी योनि से पानी बाहर निकलने लगा था और मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था जब मैं और मोनिका एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा रहे थे। हम दोनों ने एक दूसरे की गर्मी को बढ़ा दिया था मेरा लंड मोनिका की चूत के अंदर बाहर आसानी से जा रहा था। जिस तरीके से मेरा लंड मोनिका की चूत में जा रहा था उससे उसे मजा आ रहा था। मोनिका और मैं एक दूसरे की गर्मी को जिस तरीके से बढ़ा रहे थे वह हम दोनों के लिए बहुत ही अच्छा था हम दोनों एक दूसरे के साथ जमकर सेक्स के मजा लेना चाहते थे। मैं मोनिका को धक्के दिए जा रहा था मैंने मोनिका को बहुत तेजी से धक्के दिए जैसे ही मेरा वीर्य मोनिका की चूत में गिरा तो मुझे मजा आ गया था और मोनिका को भी बहुत ज्यादा अच्छा लगा जब मैंने अपने वीर्य को उसकी चूत में गिरा दिया था।


Comments are closed.


Spread the love